Universities Able To Promote Students

युनिवर्सिटी में बिना परीक्षा छात्रों को प्रमोशन दे के आगे के सेमेस्टर में भेजा जाएगा

लोकडाउन की वजह से सारी यूनिवर्सिटीओ में परीक्षा रद्द की गई है और नया शैक्षणिक सत्र समय पर शुरू नहीं हो सकता इसलिए एक सामान्य दिशानिर्देश तैयार करने के लिए यूजीसी द्वारा गठित एक समिति ने हाल ही में एक रिपोर्ट प्रस्तुत की है। जिसमें, सिफारिश के अनुसार तमाम यूनीवर्सिटीओ को कैरी फॉरवर्ड प्रणाली को वर्तमान वर्ष के सभी छात्रों के लिए सामान्य तरीके से लागू किया जाए और सभी छात्रों को प्रमोशन दे के अगले सेमेस्टर में भेजा जाएं

Universities Will Now Able To Promote Students Without Exam

यूजीसी द्वारा विभिन्न यूनिवर्सिटीओ के कुलपति-शिक्षाविदों की रची हुई विशेषज्ञ समिति द्वारा परीक्षा और अकादमिक कैलेंडर सहित मामलों के लिए एक दस-पृष्ठ का रिपोर्ट प्रस्तुत कीया गया है। इस रिपोर्ट में की गई सिफारिशें, जो सोशल मीडिया पर प्रसारित हो रही हैं, वो राज्य की प्रत्येक यूनीवर्सिटी को आवश्यक रूप से लागू नहीं हैं क्योंकि हर राज्य में प्रत्येक राज्य विश्वविद्यालय के निर्देश अलग अलग है।

लेकिन सामान्य तरीके से समिति द्वारा की गई सिफारिश के अनुसार, यूनीवर्सिटीया कैरी फॉरवर्ड सिस्टम जो केवल असफल छात्रों को अग्रेषित करने के लिए लागू होता है, इसे यूनीवर्सिटी के अतिरिक्त चालू वर्ष के लिए सभी के लिए लागू किया जा सकता है।

Download Aarogya Setu App

या फिर युनिवर्सिटी के मौजूदा पारंपरिक परीक्षा पैटर्न ओपन बुक, MCQS – OMR या असाइनमेंट और प्रेज़न्टेशन आधारित परीक्षा भी ले सकते हैं और युनिवर्सिटीया अपने नियमों के अनुसार परीक्षा के समय के साथ-साथ आंतरिक-बाहरी परीक्षा के गुणभार भी बदल सकते है।

क्या नहीं ली जाएगी किसी भी युनिवर्सिटी में परीक्षा

समिति द्वारा प्रत्येक यूनी के लिए सुझाए गए अकादमिक कैलेंडर के अनुसार हर युनिवर्सिटी में 16 मई से 31 मई तक शोध प्रबंध – परियोजना कार्य या इंटर्नशिप रिपोर्ट प्रक्रिया की जा सकती है और वो भी केवल ऑनलाइन ही किया जा सकता है। वेकेशन 1 जून से 31 जून तक रखा जाएगा और सेमेस्टर परीक्षाएं 1 जुलाई से 15 जुलाई तक आयोजित की जाएगी और उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन की प्रक्रिया और परिणाम की घोषणा 31 जुलाई तक पूरी कर दी जायेगी।

जब की कक्षा 12 के बाद साइंस, कॉमर्स और आर्ट्स में प्रवेश 1 अगस्त से शुरू किए जाएंगे और नए छात्रों के लिए सेमेस्टर 1 सितंबर से शुरू किया जा सकता है और दूसरे और तीसरे वर्ष के छात्रों के लिए 1 अगस्त से नया सेमेस्टर शुरू किया जा सकता है। दिवाली सत्र की सेमेस्टर परीक्षाएं 1 से 25 जनवरी 2021 तक ली जा सकती हैं और दूसरा सत्र 27 जनवरी से शुरू हो सकता है।

दुसरे सत्र की परीक्षाएं 26 मई से 25 जून तक ली जा सकती हैं और वेकेशन 1 जुलाई से 30 जुलाई तक दिया जा सकता है। इस प्रकार, यदि शैक्षिक सत्र इस वर्ष में देर से शुरू होता है, तो उसका प्रभाव अगले वर्ष पे भी पड़ेगा। यूनीवर्सिटीया अकादमिक दिनों को पूरा करने के लिए, शनिवार सहित एक सप्ताह में पूरे 6 दिन तक पढ़ाते रहें। यूजीसी ने अभी तक समिति की रिपोर्ट की सिफारिशों को अंतिम रूप नहीं दिया है। यूजीसी की आज मीटिंग हुई थी, कुछ ही दिनों में कोमन गाइडलाइन जारी कि जाएगी।

Click Here To Read In Gujarati

Leave a Comment